CIBIL का मतलब है (Credit Information Bureau India Limited) क्रेडिट इन्फॉर्मेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड यह एक Credit जानकारी कंपनी है जो व्यक्तियों और संगठनों की सभी क्रेडिट संबंधी गतिविधियों का रिकॉर्ड रखती है

Banks, non-banking finance companies और other financial संस्थान Custmer की Crdit जानकारी ब्यूरो में Submit करते हैं।  इस जानकारी के आधार पर, CIBIL, Credit Information Report (CIR) नामक Document जारी करता है और Custmer को Crdit score देता है। 

CIBIL स्कोर क्या है?

आपका CIBIL स्कोर 300 और 900 के बीच का तीन अंकों का नंबर होता है, जो आपकी Credit योग्यता को दर्शाता है।  उच्च स्कोर आपको Loan और Credit  पर जल्दी से Approval और बेहतर डील प्राप्त करने में मदद कर सकता है। अधिकांश Bank और Non-banking के लिए, Loan Approval के लिए आवश्यक न्यूनतम क्रेडिट स्कोर 750 है।


सिबिल स्कोर की जांच कैसे करे। 

  • सबसे पहले आपको CIBIL के आधिकारिक वेबसाइट https://www.cibil.com पर Log in  करना होगा।
  • उसके बाद आपको इसमें अपनी निजी जानकारियां (Personal information) नाम, पता, उम्र और फोन नंबर इत्यादि ठीक – ठीक  भरना होगा।
  • अगर आप अपना क्रेडिट स्कोर (Credit score) जानना चाहते हैं तो डिस्पले पर नजर आ रहे Option को चुनकर इसके लिए तय शुल्क का भुगतान करें।
  • सबमिट पर क्लिक (click on sumit) करने के बाद आप अपने ईमेल पर अपने क्रेडिट स्कोर (Credit score) की जानकारी हासिल कर सकते हैं।

CIBIL स्कोर कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

आइये जानते  हैं जिनका आपके सिबिल स्कोर पर असर पड़ता है, और कैसे कैलकुलेट करते है।

  1. Payment History: देर से EMI भरना या दिवालिया होना का आपके सिबिल स्कोर पर प्रतिकूल असर पड़ता है.

2. Credit Mix: Mixed Security and Unsecured Loan होने का आपके क्रेडिट स्कोर पर Positive असर होता है.

3. बार-बार पूछताछ : Loan के विषय में बहुत ज्यादा पूछताछ करने का आपके स्कोर पर Nagtive असर पड़ता है. यह संकेत देता है कि भविष्य में आपके लोन का बोझ बढ़ सकता है। 

4. High Credit Utilization : हाई क्रेडिट यूटिलाइजेशन लिमिट समय के साथ कर्ज बढ़ने का संकेत देती है। इसका स्कोर पर अच्छा असर नहीं होता है। 


Cibil Score कितना होना चाहिए?

CIBIL कामतलब  है Credit Information Bureau of India Limited. ये CIBIL Transunion Score एक 3 digit number होता है जो की आपके Credit History को दर्शाता है।

ये CIBIL score की range 300 से 900 तक के बीच की होती है। जितनी ज्यादा आपकी Credit Score होगी उतनी ही अच्छी आपकी credit history मानी जाएगी। Credit score एक तरीके से आपके Loan को लौटाने की योग्यता को दर्शाता है।

आपको बता दे कि एक CIBIL score usually range साथ काम  करता है 300 से 900 के बीच. कुछ लोगों के लिए ये 300 से नीचे भी जा सकता है वहीँ 900 से ऊपर कभी नहीं जायेगा।  आइए जानते है इसके बारे में।

Below 300: अगर आपकी CIBIL Score 300 से नीचे है, तब आपको कोई भी bank loan प्रदान नहीं करेंगा, चाहे वो कोई भी loan क्यूँ न हो आप banks के लिए एक बड़ा Risk माने जाते ही और वो आपको credible नहीं मानते हैं loan देने के लिए। 

Between 300 और 450: वैसे इस पहले के मुकाबले इतना खतरनाक नहीं माना जाता है, लेकिन ये score भी ज्यादा credible नहीं है. आप इसे एक warning समझकर अपने EMIs समय में देना चालू करें जिससे आपके credit score में सुधार आ जाये.

Between 450 और 600: ये एक average score है जो की बहुत अच्छा भी नहीं है और न ही बहुत ख़राब. ऐसे score में आपको कुछ banks loans दे भी सकती हैं. वहीँ यदि आपको credit card दिया जाता है तब उसकी credit limit बहुत ही कम होगी।

Between 600 और 750: ये score बहुत ही बढ़िया है. इसके लिए आपको प्राय सभी banks loans और credit cards प्रदान करने के लिए तैयार भी हो जाएँगी, लेकिन आप एक competitive rate के लिए शायद negotiate न कर पायें.

Between 750-900: अगर आपकी credit score इस range में है, तब आपने एक perfect financial track record maintain किया है. Banks आपको बड़ी amount देने के लिए तैयार भी हो जाएँगी और साथ में एक बढ़िया deal final करने के लिए negotiate भी करने लगेंगी.

आपको Credit cards higher credit limit की offer की जाएगी वो भी बढ़िया cashback और deals के साथ।